दिसंबर 2023 - Kavita Rawat Blog, Kahani, Kavita, Lekh, Yatra vritant, Sansmaran, Bacchon ka Kona
ब्लॉग के माध्यम से मेरा प्रयास है कि मैं अपनी कविता, कहानी, गीत, गजल, लेख, यात्रा संस्मरण और संस्मरण द्वारा अपने विचारों व भावनाओं को अपने पारिवारिक और सामाजिक दायित्व निर्वहन के साथ-साथ सरलतम अभिव्यक्ति के माध्यम से लिपिबद्ध करते हुए अधिकाधिक जनमानस के निकट पहुँच सकूँ। इसके लिए आपके सुझाव, आलोचना, समालोचना आदि का हार्दिक स्वागत है।

रविवार, 31 दिसंबर 2023

Kuchh Aisa Ho Nutanvarshabhinandan।कुछ ऐसा हो नूतनवर्षाभिनंदन। Happy New Year

दिसंबर 31, 2023
आपस में कोई बैर भाव न रहे न रहे कोई जात-पात का बंधन हर घर आँगन में बनी रहे खुशहाली कुछ ऐसा हो नूतनवर्षाभिनंदन तोड़कर नफरत भरी सब दी...
और पढ़ें>>

शुक्रवार, 15 दिसंबर 2023

यूँ ही अचानक कहीं कुछ नहीं घटता । Yun Hi Achanak Kahin Kuchh Nahin Ghatta। हिन्दी कविता।

दिसंबर 15, 2023
यूँ ही अचानक कहीं कुछ नहीं घटता अन्दर ही अन्दर कुछ रहा है रिसता किसे फुरसत कि देखे फ़ुरसत से जरा कहाँ उथला कहाँ राज है बहुत गहरा बेवजह...
और पढ़ें>>

शनिवार, 2 दिसंबर 2023

त्रासदी के कड़ियां | भोपाल गैस कांड |

दिसंबर 02, 2023
देखते-देखते भोपाल गैस त्रासदी के 39 बरस बीत गए।हर वर्ष तीन दिसंबर गुजर जाता है और उस दिन मन में कई सवाल उठते हैं, जो अनुत्तरित रह जाते है...
और पढ़ें>>

शुक्रवार, 1 दिसंबर 2023

असह्य वेदना | भोपाल गैस त्रासदी की दर्दभरी दास्‍तां | Bhopal disaster |

दिसंबर 01, 2023
जैसे ही प्रतिवर्ष दिसंबर माह शुरू होता है तो भोपाल गैस त्रासदी का वह भयावह मंजर आँखों में कौंधने लगता है। अपनी आँखों के सामने घटी इस त्रासद...
और पढ़ें>>