इस वास्ते पंद्रह अगस्त है हमें प्यारा - KAVITA RAWAT
ब्लॉग के माध्यम से मेरा प्रयास है कि मैं अपने विचारों, भावनाओं को अपने पारिवारिक दायित्व निर्वहन के साथ-साथ कुछ सामाजिक दायित्व को समझते हुए सरलतम अभिव्यक्ति के माध्यम से लिपिबद्ध करते हुए अधिकाधिक जनमानस के निकट पहुँच सकूँ। इसके लिए आपके सुझाव, आलोचना, समालोचना आदि का स्वागत है। आप जो भी कहना चाहें बेहिचक लिखें, ताकि मैं अपने प्रयास में बेहत्तर कर सकने की दिशा में निरंतर अग्रसर बनी रह सकूँ|

Wednesday, August 14, 2019

इस वास्ते पंद्रह अगस्त है हमें प्यारा

जब-जब 15  अगस्त को लाल किले की प्राचीर से तिरंगा फहराया जाता है
तब-तब स्वतंत्रता प्राप्ति हेतु न्यौछावर हर शहीद सबको याद आने लगता है

प्रधानमंत्री जी पहले देश की कठिनाईयों, विपदाओं पर बहुत देर गंभीर रहते हैं
फिर भावी योजना पर प्रकाश डाल वर्षभर की उपलब्धियों का बखान करते हैं

राष्ट्रशक्ति को निर्बल करने वाले आंतरिक व बाह्य तत्वों पर तीव्र प्रहार करते हैं
फिर सभी 'राष्ट्रगान' गाकर 'जय हिंद' के घोष-संग अपनी राह पकड़ लेते हैं

इधर दिल्ली के प्रमुख नागरिक, राजदूत, कूटनीतिज्ञों का सरकारी भोज होता है
उधर हमारा मन भी 'आजादी का एक लड्डू' पाकर ख़ुशी से भर-भर आता है

चलो आज 'हम स्वतंत्र है और रहेंगे' यह भाव एक बार सबके मन तो आता है
जो मन में 'राष्ट्र और राष्ट्रीयता' की हलकी-सी हलचल उत्पन्न कर जाता है

आओ सभी फहरा कर तिरंगा, मिलकर गायें ये गीता न्यारा-
"इस वास्ते पंद्रह अगस्त है हमें प्यारा
आजाद हुआ आज के दिन देश हमारा"
इस दिन के लिए खून शहीदों ने दिया था
बापू ने भी इस दिन के लिए ज़हर पिया था
इस दिन के लिए नींद जवाहर ने तजी थी
नेताजी ने पोशाख सिपाही की सजी थी
गूंजा था आज देश में जय हिंद का नारा
आज़ाद हुआ आज के दिन देश हमारा
- - - - - - - - -
 
स्वतन्त्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाओं सहित
जय हिन्द! जय भारत!
... कविता रावत 

8 comments:

M VERMA said...

स्वतन्त्रता दिवस की हार्दिक शुभकामनाए

शिवम् मिश्रा said...

ब्लॉग बुलेटिन की दिनांक 14/08/2019 की बुलेटिन, "73 वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या पर राष्ट्रपति कोविंद का राष्ट्र को संबोधन “ , में आप की पोस्ट को भी शामिल किया गया है ... सादर आभार !

Anjani said...

बहुत ही बढ़िया आर्टिकल आपके द्वारा बताई की जानकारी मुझे बहुत ही पसंद आई। आपको भी स्वतंत्रता दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएं।

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक' said...

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल शुक्रवार (16-08-2019) को "आजादी का पावन पर्व" (चर्चा अंक- 3429) पर भी होगी।
--
चर्चा मंच पर पूरी पोस्ट नहीं दी जाती है बल्कि आपकी पोस्ट का लिंक या लिंक के साथ पोस्ट का महत्वपूर्ण अंश दिया जाता है।
जिससे कि पाठक उत्सुकता के साथ आपके ब्लॉग पर आपकी पूरी पोस्ट पढ़ने के लिए जाये।
--
स्वतन्त्रता दिवस और रक्षाबन्धन की
हार्दिक शुभकामनाओं के साथ
सादर...!
डॉ.रूपचन्द्र शास्त्री 'मयंक'

संजय भास्‍कर said...

स्वतंत्रता दिवस की बहुत-बहुत शुभकामनाएं।

दिगम्बर नासवा said...

सार्थक और विचारणीय लेखन ... स्वतंत्रता दिवस पर बहुत कुछ कहने का मादा रखती है आपकी ये यथार्थ रचना ...
बधाई स्वतंत्रता के पर्व की ...

VenuS "ज़ोया" said...

vayvaahrik soch liye rchnaaa


bdhaai

Kamini Sinha said...


सादर नमस्कार ,

आपकी इस प्रविष्टि् के लिंक की चर्चा कल मंगलवार (11 -8 -2020 ) को "कृष्ण तुम पर क्या लिखूं!" (चर्चा अंक 3790) पर भी होगी,आप भी सादर आमंत्रित हैं।
---

कामिनी सिन्हा